Thursday, September 29UAM - UDYAM-BR-13-0006027

Varanasi

उत्तर प्रदेश को मिल जायेगा एक और 296 Km लम्बा हाई-वे, 96% काम हो गया पूरा,अगले महीने पीएम मोदी कर सकते है शुभारम्भ
GORAKHPUR, KANPUR, UTTAR PRADESH, Varanasi

उत्तर प्रदेश को मिल जायेगा एक और 296 Km लम्बा हाई-वे, 96% काम हो गया पूरा,अगले महीने पीएम मोदी कर सकते है शुभारम्भ

उत्तर प्रदेश को अगले महीने एक और 296 किलोमीटर लंबे हाईवे का सौगात मिलने वाला है इस हाईवे का काम लगभग 96% पूरा कर लिया गया है। बताया जा रहा है कि इस हाईवे का शुभारंभ भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के हाथों से जुलाई के दूसरे सप्ताह में हो सकता है। 296 किलोमीटर लम्बा यह हाईवे झांसी-मिरजापुर हाईवे से शुरू होकर इटावा के कुदरैल में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे से जुड़ने वाला बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे बस अब कुछ ही दिनों में तैयार हो जाएगा। बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे से चित्रकूट से दिल्ली जाने वाले लोगों को सिर्फ 6 से 7 घंटों में ही सफर तय कर सकेंगे। बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे की नीव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 29 फरवरी 2020 को चित्रकूट में रखी थी । इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण कार्ययोजना का समय 27 माह का था लेकिन इसको बहुत कम समय सिर्फ 16 महीनो में ही पूरा कर लिया गया है।सब...
गोरखपुर से मुंबई रेलयात्रियो को सौग़ात, साथ साथ वाराणसी के लोगों को बड़ा तोहफ़ा
GORAKHPUR, UTTAR PRADESH, Varanasi

गोरखपुर से मुंबई रेलयात्रियो को सौग़ात, साथ साथ वाराणसी के लोगों को बड़ा तोहफ़ा

गोरखपुर: पूर्वोत्तर रेलवे की मांग पर बोर्ड ने 7 और ट्रेनें पूर्वोत्तर रेलवे को देने का फैसला लिया है। कैंट से चलने वाली पांच एक्सप्रेस और दो पैसेंजर ट्रेनें, अब बनारस स्टेशन से चलेगी। रेलवे प्रशासन ने ट्रेनों को संचालित करने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है।   # 7 ट्रेनों के आने से कुल संख्या हो जाएगी 75, एनईआर की मांग पर बोर्ड ने लिया फैसला__ आपको बता दें कि इन 7 ट्रेनों के आने से एन ई आर के ट्रेनों की कुल संख्या 75 एक्सप्रेस ट्रेन और 87 पैसेंजर ट्रेन हो गई है । दरअसल पूर्वोत्तर रेलवे ने पिछले वर्ष ही कैंट से संचालित होने वाली 7 ट्रेनों को मंडुआडीह (बनारस) से संचालित करने की मांग की थी। मंडुआडीह स्टेशन का कायाकल्प व नाम बदलकर बनारस करने के बाद रेलवे बोर्ड ने उत्तर रेलवे के 7 ट्रेनों को एन ई आर को देने का फैसला कर लिया है।   गौरतलब है कि रेलवे के इस फैसले से वाराणसी क...
पूर्वोत्तर रेलवे के खाते में आयी सात और ट्रेने, वाराणसी कैंट से चलने वाली इन सात ट्रेनों को अब बनारस स्टेशन से चलायी जाएगी
Varanasi

पूर्वोत्तर रेलवे के खाते में आयी सात और ट्रेने, वाराणसी कैंट से चलने वाली इन सात ट्रेनों को अब बनारस स्टेशन से चलायी जाएगी

बनारस :  ट्रेन से सफर करने वाले यात्रियों के लिए एक अच्छी खबर आ रही है पूर्वोत्तर रेलवे की मांग पर बोर्ड ने सात ट्रेने और पूर्वोत्तर रेलवे के खाते में डाल दिया है। बता दें कि उत्तर रेलवे के अंतर्गत आने वाला वाराणसी कैंट से चलने वाली पांच एक्सप्रेस ट्रेने और दो पैसेंजर ट्रेनो को अब पूर्वोत्तर रेलवे के बनारस स्टेशन से चलाई जाएगी। रेलवे बोर्ड ने पूर्वोत्तर रेलवे की मांग पर यह आदेश दिया है प्रशासन के द्वारा इन ट्रेनों को चलाने की तैयारी शुरू कर दी है। यात्रियों को ट्रेनों में भीड़ भाड़ से मिलेगी राहत।     बनारस स्टेशन से चलने वाली ट्रेनो की लिस्ट  (22969 )ओखा वाराणसी एक्सप्रेस (14219 )वाराणसी लखनऊ एक्सप्रेस (22407 )गरीब रथ एक्सप्रेस (14265 )देहरादून जनता एक्सप्रेस (04267) प्रतापगढ़ स्पेशल पैसेंजर ट्रेन (11071)कामायनी एक्सप्रेस (04201 )प्रतापगढ़ स्पेशल पैसे...
Varanasi

बाबा काशी विश्वनाथ मंदिर में चढ़ावे ने तोडा सारा रिकॉर्ड,पिछले दो महीनो में इतने धन बरसे की सुन के हो जायेंगे गदगद

वाराणसी:धर्म की नगरी काशी पर्यटन उद्योग कोरोना काल के मुकाबले अब काफी अच्छा हो गया है। कोरोनावायरस संक्रमण के समय पर लगभग सभी चीजे प्रभावित हुई थी लेकिन धीरे-धीरे ही सही लेकिन सब कुछ धीरे धीरे लाइन पर आ चुका है। हम बात कर रहे हैं धर्म की नगरी काशी के पर्यटन उद्योग पहले से काफी सुधर गया है। श्री काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण कोरोनावायरस के पहली और दूसरी लहर के बाद हुआ था जिसके बाद से ही बाबा विश्वनाथ की धाम में लक्ष्मी की बारिश हो रही है . बता दे की रिपोर्ट के अनुसार बाबा के दरबार में सिर्फ 2 महीनों में ही 9.50 करोड़ रुपए चढ़ावा आया है और खुशी की बात यह है कि मंदिर में सिर्फ अप्रैल महीने में 5.50 करोड़ रूपए का चढ़ावा आया है यह एक माह में चढ़ावा का रिकॉर्ड बन गया है.मंदिर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी के अनुसार जब से काशी विश्वनाथ का उद्घाटन हुआ है तब से श्रद्धालुओं की संख्या में वृद्धि हुई ह...
वाराणसी में बनेगा अंतराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम, खेल मंत्री और बीसीसीआइ की टीम ने देखि जमीन, उन्होंने कहा की..
Varanasi

वाराणसी में बनेगा अंतराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम, खेल मंत्री और बीसीसीआइ की टीम ने देखि जमीन, उन्होंने कहा की..

वाराणसी के लोगों को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का तोहफा मिलने वाला है क्योंकि बीसीसीआई आईपीएल समेत अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच के लिए स्टेडियम बनाने की योजना बना रही है। बता दें कि शनिवार को केंद्रीय सूचना प्रसारण व खेल मंत्री अनुराग ठाकुर और भारतीय क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड के सचिव जय शाह वाराणसी पहुंचे थे। सरकार द्वारा प्रस्तावित अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम के लिए 4 जगहों पर भूमि देखे। लेकिन इससे संबंधित निर्णय आगे लिया जाएगा। बीसीसीआई के द्वारा वाराणसी में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम बनाना है जिसके लिए प्रदेश सरकार जमीन की व्यवस्था करेगी। जिला अधिकारी के अनुसार खेल मंत्री और बीसीसीआई की टीम लखनऊ से बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचे। उनके द्वारा स्टेडियम के लिए चयनित जमीनों को देखने की इच्छा जताई। सभी जमीनों को देखने के बाद बीसीसीआई की टीम समीक्षा करके निर्णय लेगी। वाराणसी में अंतरराष्ट्री...