Friday, September 23UAM - UDYAM-BR-13-0006027

मुख्यमंत्री योगी के जनता दरबार में पहुँचा बकरी और दाखिल ख़ारिज का मामला, जानिए क्या हुआ फिर

जिन्हें पुलिस और प्रशासन के स्तर पर न्याय नहीं मिल रहा है, वे मुख्यमंत्री के पास आएं। अब जब खारिज दाखिल करने जैसे साधारण मामले भी मेरे पास आने लगे तो यह अच्छी बात नहीं है। प्रशासन को अपने कामकाज की समीक्षा करने की जरूरत है। जनता दर्शन में रिजेक्ट न होने की समस्या लेकर आए कुछ लोगों ने जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पास समाधान के लिए आवेदन दिया तो वे भड़क गए।

 

जनता के दर्शनों में आ रहे अजीबोगरीब मामले

दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर आए मुख्यमंत्री ने नियमित पूजा के बाद गोरखनाथ मंदिर के हिंदू सेवाश्रम और गोरखनाथ मंदिर में गोसेवा के सार्वजनिक दर्शन किए। करीब 700 लोग सीधे मुख्यमंत्री से बात करने आए थे, जिनमें से 200 की समस्या सुनी, शेष समस्याएं मुख्यमंत्री के निर्देश पर जिलाधिकारी व एसएसपी ने सुनी।

 

महिलाओं की संख्या और पुलिस और भूमि विवाद से जुड़े मामले हमेशा की तरह अधिक रहे। जिन लोगों की समस्याओं को मुख्यमंत्री ने सुना, उन्हें हल करने का आश्वासन दिया। हत्या और रेप के कुछ मामले ऐसे भी थे, जिनके आरोपी अभी तक गिरफ्तार नहीं हुए हैं। मुख्यमंत्री ने एसएसपी को ऐसे मामलों में तत्काल गिरफ्तारी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर जिलाधिकारी कृष्ण करुणेश, एसएसपी डॉ. विपिन टाडा, डीआईजी जे. रवींद्र गौर आदि उपस्थित थे।

 

मैं विकलांग और गरीब हूँ महाराज जी! नौकरी की जरूरत है

जब मुख्यमंत्री बलिया निवासी अभयराज के पास समस्या जानने पहुंचे तो जन दर्शन में अभय की आंखें नम हो गईं। कहा महाराज जी, विकलांग होने के साथ-साथ मैं बहुत गरीब हूँ। आईटीआई कोर्स किया है लेकिन नौकरी नहीं मिल रही है। कृपया इसकी व्यवस्था करें। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हर भर्ती में दिव्यांग कोटा होता है, फॉर्म भरते रहो, नौकरी जरूर मिलेगी।

 

मुझे मेरी बकरी ले आओ

पीपीगंज की विमला देवी ने मुख्यमंत्री से शिकायत की कि वह मुस्कुराए बिना नहीं रह सकतीं। विमला ने बताया कि पड़ोसी ने उसकी बकरी को मार डाला और घर की बालकनी भी तोड़ दी। पुलिस ने शिकायत तक नहीं सुनी। मुझे मेरी बकरी चाहिए मुख्यमंत्री ने कार्रवाई का आश्वासन दिया।

 

सब इंस्पेक्टर भर्ती में गड़बड़ी की आई शिकायत

जनता दर्शन में आशीष सिंह नाम के युवक ने सब इंस्पेक्टर की भर्ती में गड़बड़ी की शिकायत की. उनका आरोप था कि जिनके कम अंक थे, वे मेरिट में आए और अधिक वाले निकले। मुख्यमंत्री ने गड़बड़ी की स्थिति में न्याय का आश्वासन दिया।

धर्मशाला बाजार के पूर्व पार्षद ने प्रधानमंत्री आवास में बिना निर्माण के डेढ़ करोड़ रुपये भुगतान करने की शिकायत की। मुख्यमंत्री ने आयुक्त को उनकी शिकायत की जांच करने का निर्देश दिया।

 

गुरु की पूजा करके गौसेवा

मुख्यमंत्री ने सोमवार को दिन की शुरुआत गुरु गोरक्षनाथ की पूजा अर्चना कर की। उसके बाद वे अपने गुरु ब्राह्मण महंत अवेद्यनाथ की समाधि पर गए और उनका आशीर्वाद लिया। मंदिर के दर्शन के क्रम में वे गौशाला गए और वहां करीब आधे घंटे तक गौ सेवा की। अपने कुत्ते कालू-गुल्लू के साथ कुछ समय बिताने के बाद वे सार्वजनिक दर्शन के लिए हिंदू सेवाश्रम पहुंचे। वह दोपहर 2.30 बजे गोरखनाथ मंदिर से लखनऊ के लिए निकले। उसके बाद वह बदले में अपने कुत्तों कालू और गुल्लू से भी मिला। उसके बाद सीएम जन दर्शन के लिए हिंदू सेवाश्रम पहुंचे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.