Thursday, September 29UAM - UDYAM-BR-13-0006027

बिहार यूपी नए रेलखंड पर बनेंगे 6 नए रेलवे स्टेशन एवं 2 हॉल्ट, इन क्षेत्रों की बदलेगी सूरत

आरा :- केंद्र सरकार ने एक नई पहल की शुरुआत की है, खबर मिली है कि अगले बजट में केंद्र सरकार भोजपुर वासियों को बड़ी खुशखबरी दे सकती है। दरअसल आपको बता दें कि यह आरा को बलिया से जोड़ने का भोजपुर वासियों का सपना दशकों पुराना है। जिसके साकार होने की उम्मीद अब नजर आ रही है। बताया जा रहा है कि बिहार और यूपी के प्रमुख दो जिलो को रेल लाइन से जोड़ने के लिए सर्वे का काम पूर्ण हो चुका है। रेलवे लाइन की बात करें तो बक्सर जिले के नैनीजोर से गंगा पुल को पार कर रेलवे लाइन बिहार में प्रवेश करेगी। गौरतलब है कि बक्सर और बलिया के अलावा 6 और रेलवे स्टेशन एवं 2 हॉल्ट बीच में बनाए जायेंगे।

 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दोनों स्टेशंस के बीच 61.69 किलोमीटर लंबी रेल लाइन बिछाने का काम जल्द शुरू किया जाएगा । वर्तमान स्थिति की बात करें तो आरा के पश्चिम में जगजीवन हाल्ट को जंक्शन में अपग्रेड करने की योजना है। केंद्र सरकार के आदेश अनुसार प्राथमिक सर्वे रिपोर्ट स्वीकार होने के बाद डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाने का कार्य किया जाएगा।रेलवे लाइन आरा जंक्शन से -जगजीवन हाल्ट होते हुए मसाढ़, धमार, उमरावगंज, धमवल, नैनीजोर, कृपालपुर, सोहिलपुर के रास्ते बलिया पहुंचेगी। सर्वे रिपोर्ट के अनुसार आरा से जगजीवन हाल्ट होते हुए मसाढ़ हाल्ट के बाद धमार और उमरांव गंज स्टेशन आएंगे। इसके बाद धामवल हाल्ट और नैनीजोर स्टेशन होगा। यहीं से लाइन गंगा नदी पार कर बलिया में प्रवेश करेगी यूपी में पहला स्टेशन कृपालपुर होगा।

 

 

नैनीजोर और कृपालपुर स्टेशन के बीच की दूरी लगभग साढ़े तीन किलोमीटर होगी और इसी के बीच गंगा नदी पर रेल पुल प्रस्तावित है। सर्वे के अनुसार इसके बाद सोहिलपुर स्टेशन और बलिया स्टेशन आएगा। प्राथमिक सर्वे कार्य पूरा होने के बाद बलिया के सांसद बीरेंद्र सिंह मस्त ने रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने रेल लाइन परियोजना पर जल्द काम शुरू कराने का आग्रह किया है। जिसके बाद डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट पर काम जल्द आगे बढ़ने की उम्मीद है। डीपीआर में ही परियोजना लागत का खुलासा होगा।

 

# पूर्वांचल और भोजपुर के साथ दियारांचल का होगा विकास ।

सर्वे में रेलवे लाइन का जो रूट तैयार किया जा रहा है, वह पूर्वांचल और भोजपुर के अति पिछड़े इलाके के लिए विकास की रोशनी लेकर आएगा। बक्सर जिले का नैनीजोर और बलिया का कृपालपुर इलाका खांटी दियारा का इलाका माना जाता है। परिवहन सुविधा कम होने के कारण क्षेत्र का अपेक्षित विकास भी नहीं हुआ है। आरा-बलिया रेलवे लाइन धरातल पर उतरने के बाद इस क्षेत्र के लोगों के लिए परिवहन सुगम होगा और आरा एवं बलिया के साथ बक्सर के पिछड़े क्षेत्र में विकास के साथ रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.