Thursday, September 29UAM - UDYAM-BR-13-0006027

बिहार में श्रावणी मेले के लिए तय हुआ ट्रैफ़िक रूट, वाहनो के लिए तैयार हुआ वैकल्पिक मार्ग जानिए

मुजफ्फरपुर में श्रावणीमेला के लिए प्रशासन की ओर से नया ट्रैफिक रूट चार्ट जारी किया गया है। शनिवार को दोपहर 2 बजे से सोमवार दोपहर 2 बजे तक यातायात में परिवर्तन किया गया है। पटना के लिए बसें अब बरियारिया से भगवानपुर रीवा रोड के लिए चलेंगी।

मुजफ्फरपुर में जिला प्रशासन ने ट्रैफिक रूट चार्ट जारी किया है। शहर के अंदर मंदिर तक पहुंचने के लिए श्रद्धालु रामदियालु से प्रभात सिनेमा रोड होते हुए जिला स्कूल में बने एक टेढ़े-मेढ़े रास्ते से मंदिर में प्रवेश करेंगे।

# परिचालन पूरी तरह से बंद रहेगा

वहीं, पटना एनएच पर हर शनिवार दोपहर 2 बजे से सोमवार दोपहर 2 बजे तक वाहनों का परिचालन पूरी तरह बंद रहेगा। इस सड़क के बंद होने से लोगों के लिए एक और वैकल्पिक मार्ग तैयार किया गया है, ताकि लोगों को आवागमन में कोई परेशानी न हो।

# रास्ते में विशेष निगरानी रखा जाएगा

डीटीओ सह नोडल अधिकारी यातायात सुशील कुमार ने कहा कि फाकुली मोड़, सकरी मोड़ पर विशेष चौकसी बरती जाएगी ताकि इस दिशा में कोई वाहन न आ सके। मोटर फेडरेशन से कहा गया है कि पटना रोड पर ट्रेनें शनिवार दोपहर से सोमवार दोपहर तक अन्य निर्धारित रूटों पर चले।

# एनएच पर ऐसी होगी ट्रैफिक व्यवस्था

मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, दरभंगा, मोतिहारी से पटना की ओर प्रत्येक शनिवार दोपहर 2 बजे से सोमवार की 2 बजे तक भगवानपुर चौक से एनएच 722 सराय होते हुए लालगंज से हाजीपुर और रीवा रोड से पटना जाएगी । वहीं समस्तीपुर रूट से आने वाले वाहन काजिंदा-महुआ-हाजीपुर होते हुए एनएच 28 पर दौड़ेंगे। वहीं समस्तीपुर रूट से मोतिहारी जाने वाले वाहन एनएच 28 से चांदनी चौक होते हुए भगवानपुर जाएंगे।

# दूधिया रोशनी से नहीं जगमगा सकेगी

मुजफ्फरपुर में श्रावणीमेला के मद्देनजर बाबा नगरी और कांवड़िया मार्ग को एलईडी स्ट्रीट लाइट से रोशन करने की योजना थी। वह अभी नहीं हो सकता। क्योंकि अब निगम बोर्ड भंग कर दिया गया है। नगर विकास एवं आवास विभाग ने भी प्रशासक की नियुक्ति नहीं की है। उधर, विभाग पहले ही पत्र जारी कर सभी नगर निगमों को अपने स्तर पर टेंडर के जरिए एलईडी स्ट्रीट लाइट खरीदने पर रोक लगा चुका है।

# सिर्फ 25 एलईडी स्ट्रीट लाइट

नगर आयुक्त चाहें तो भी 25 हजार रुपये से अधिक की एलईडी स्ट्रीट लाइट नहीं खरीद सकते। बताया कि पहले 1000 एलईडी स्ट्रीट लाइट के अलावा बाबा नगरी को छोड़कर कांवड़िया पथ समेत शहर की सभी सड़कों पर रोशनी नहीं है। स्थापित करने की योजना थी, लेकिन स्वीकृति नहीं मिली। इस वजह से कांवड़िया पथ पर जहां कहीं भी पोल खाली है, वहां 25 एलईडी स्ट्रीट लाइट ही हैं। सभी को लगाने का आदेश दिया गया है। बाकी लाइट जो पहले से लगी हुई है, वह खराब है। ईईएसएल एजेंसी को मरम्मत कर इसे शुरू करने का आदेश दे दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.