Thursday, September 29UAM - UDYAM-BR-13-0006027

बिहार के इस रेलवे स्टेशन की बदल जाएगी सुरत, 400 करोड़ रुपए से मिलेंगी विश्वस्तरीय सुविधाए

मुजफ्फरपुर जंक्शन को वर्ल्ड क्लास बनाने का काम तेजी से आगे बढ़ रहा है। निर्माण के बाद, चौराहे के डिजाइन की घोषणा की गई थी जैसा कि यह होगा। इस चौराहे को विश्वस्तरीय बनाने की जिम्मेदारी रेल भूमि विकास प्राधिकरण को सौंपी गई है।

 

भारतीय रेलवे ने ट्विटर पर बिहार के मुजफ्फरपुर जंक्शन रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास की एक झलक साझा की है। मुजफ्फरपुर रेलवे स्टेशन का पुनर्विकास जोरों पर है। रेल भूमि विकास प्राधिकरण (RLDA) ने इस परियोजना की लागत 400 करोड़ रुपये आंकी है।

 

#    मुजफ्फरपुर जंक्शन को क्लास ए का दर्जा प्राप्त है।

मुजफ्फरपुर जंक्शन को वर्ल्ड क्लास बनाने का काम तेजी से आगे बढ़ रहा है। निर्माण के बाद, चौराहे के डिजाइन की घोषणा की गई थी। इस चौराहे को विश्वस्तरीय बनाने की जिम्मेदारी रेल भूमि विकास प्राधिकरण को सौंपी गई है। मुजफ्फरपुर जंक्शन को क्लास ए का दर्जा दिया गया है क्योंकि यह स्टेशन सोनपुर डिवीजन का सबसे अधिक लाभ वाला जंक्शन है। इसके बावजूद यहां यात्री सुविधाओं का अभाव है।

 

#    विश्वस्तरीय सुविधा मिलेगी

मुजफ्फरपुर रेलवे स्टेशन का जल्द ही जीर्णोद्धार किया जाएगा और स्टेशन को विश्व स्तरीय हवाई अड्डे जैसी सुविधाओं से लैस किया जाएगा। परियोजना को ईपीसी (इंजीनियरिंग, प्रोक्योरमेंट एंड कंस्ट्रक्शन) अनुबंध मॉडल के माध्यम से एक महत्वाकांक्षी रेल पुनर्विकास कार्यक्रम के तहत पुनर्विकास किया जाएगा। इस प्लांट की पुनर्विकास योजना के तहत इसे विश्वस्तरीय बनाने पर करीब 400 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है।

 

#    रेल मंत्रालय ने ट्वीट किया

रेल मंत्रालय ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर मुजफ्फरपुर स्टेशन के प्रस्तावित पुनर्विकास की एक झलक साझा की। रेलवे का पुनर्विकास में एक नए टर्मिनल भवन का निर्माण, प्लेटफार्मों पर 108 मीटर चौड़ा वायु मंच और दूसरे प्रवेश द्वार का प्रावधान शामिल होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.