Thursday, September 29UAM - UDYAM-BR-13-0006027

गोरखपुर में वेटनरी मेडिकल कॉलेज को मिली मंजूरी, क्षेत्र के सभी नागरिको और किसानों को मिलेगा कारोबार में बड़ा लाभ

गोरखपुर में जल्द ही बनेगा वेटनरी मेडिकल कॉलेज, इसके लिए भूमि चिन्हित करने के बाद निर्माण का काम कराने को लेकर तैयारियां तेज़ी से चल रही हैं। बता दे प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वेटनरी कॉलेज को लेकर काफी सीरियस है। चार साल पहले ही इस योजना की स्वीकृति 40 करोड़ रूपये के साथ बजट का प्रावधान भी कर दिया था। उम्मीद है कि कॉलेज की आधारशिला आने वाले दशहरे तक रखी जा सकती है इस कॉलेज  के लिए 48 एकड़ भूमि फ़र्टिलाइज़र कैंपस में देखि गई है। कॉलेज के निर्माण के लिए लोक निर्माण विभाग की ओर से 425 करोड रुपए की बनाई गई प्रारंभिक डीपीआर को व्यय वित्त समिति की स्वीकृति पहले मिल गई है।

 

 

पशुपालन-डेयरी के कारोबार को होगा लाभ-आपको बता दें कि वेटनरी मेडिकल कॉलेज के बनने से पशुपालकों, दुग्ध कारोबारी, किसानों, खेतिहर मजदूरों की आजीविका बेहतर होगी,इसके साथ ही पशुपालन आधारित व्यापार को आगे बढ़ाने के लिए किसानों को नई तकनीकों की जानकारी आसानी से मिल सकेगी। पशुपालकों को नई जानकारियों तो मिलर्गी ही इसके साथ ही पशुओं को बीमारियों से बचाने में भी काफी मदद मिलेगी।

 

 

कॉलेज की शुरुआत 100 सीटों से होगी-बता दे कि वेटनरी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर के शुरुआत के वर्ष में 100 सीटों से ही शुरुआत किया जाएगा,100 सीटों के साथ ही अंडरग्रैजुएट का कोर्स किया जाएगा। पोस्ट ग्रेजुएट और डॉक्टरेट का कोर्स भी आने वाले समय में चलाया जाएगा। इस कॉलेज को पंडित दीनदयाल उपाध्याय पशु चिकित्सा विद्यालय व गौ अनुसंधान केंद्र मथुरा से संबद्ध कर दिया जाएगा, फिशरीज, फारेस्ट्री एवं डेयरी का कोर्स भी आने वाली समय में करवाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.