Friday, September 30UAM - UDYAM-BR-13-0006027

गोरखपुर में दौड़ेगा मीटर ऑटो, ई-रिक्सा के लिए तय हुआ ये 19 रूट, और ग़ायब होंगे सड़कों से ये वाहन

गोरखपुर शहर में ऑटो रिक्शा चलाने की तैयारी है। ऑटो-रिक्शा और ई-रिक्शा चुनिंदा मार्गों पर ही चलेंगे। कारों और ई-रिक्शा का संचालन 16 किमी के दायरे में किया जाएगा। गोरखपुर में केवल इलेक्ट्रिक वाहनों और सीएनजी के संचालन की अनुमति होगी। सीएनजी से चलने वाले रिक्शा और ई-रिक्शा के लिए परमिट जारी किए जाएंगे। राजधानी में डीजल और स्पीड वाली कारों पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा।

 

# प्रदूषण और जाम से निपटने के लिए तैयार किया गया प्रस्ताव

प्रदूषण और भीड़भाड़ से निपटने के लिए परिवहन विभाग ने इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट का प्रस्ताव तैयार किया है। सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी (प्रशासन) एआरटीओ संजय कुमार झा  ने एसपी ट्रैफिक को प्रस्ताव भेजा है, जिस पर 2 अगस्त को चर्चा होगी। चर्चा में किए गए निर्णय के अनुसार वाहनों के संचालन की गारंटी दी जाएगी। क्षेत्र में हर माह पांच से आठ हजार वाहन बढ़ रहे हैं।

 

# ई- रिक्शा के लिए 19 रूटों का हुआ निर्धारण 

जून तक 1150568 वाहन परिवहन विभाग में पंजीकृत है। क्षेत्र में कुल 13,924 तीन पहिये और 994,287 दो पहिये पंजीकृत है। 19 रूट को ई-रिक्शा के लिए निर्धारित किया गया है लेकिन अभी तक आवंटन नहीं किया गया है।

 

# अनफिट चल रहे वाहनों पर रोक लगाने के लिए चलेगा अभियान

एआरटीओ के अनुसार हर सप्ताह शहर में अनधिकृत और अनफिट वाहनों को रोकने के लिए यातायात पुलिस के सहयोग से अभियान चलाया जाएगा। उल्लंघन की पकड़ में आने पर कार्रवाई की जाएगी।

 

# क्या कह रहे हैं अधिकारी

गोरखपुर जिला परिवहन अधिकारी अनीता सिंह ने बताया कि बैठक दो अगस्त को मंडलायुक्त की अध्यक्षता  में होगी। इस दौरान ई-रिक्शा के लिए स्थिर मार्ग, प्रदूषण कम करने और जाम आदि मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की जाएगी। वहीं ई- रिक्शा निर्धारित रूटों पर ही संचालित कराए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.