Friday, September 23UAM - UDYAM-BR-13-0006027

गोरखपुर में तय हुआ ऑटो रूट, एयरपोर्ट से प्रीपेड टैक्सी तथा इन रुटो पर दौड़ेंगी छह नई बसें

गुरुवार को मंडलायुक्त सभागार में आयोजित हुए संभागीय परिवहन प्राधिकरण और मंडलीय सड़क सुरक्षा समिति के बैठक को संबोधित करते हुए मंडलायुक्त रवि कुमार एनजी ने कहा कि ई-रिक्शा का परिचालन शहर के उन्हीं रूटों पर होगा जो पहले से निर्धारित किए गए हैं । मंडलायुक्त ने अपने संबोधन में ऑटो के लिए 4 व बसों के लिए 16 चिन्हित स्थानों पर स्टैंड विकसित किए जाने के भी निर्देश दिए हैं। इतना ही नहीं उन्होंने तो सीएनजी स्टेशंस की खराब सर्विस पर भी जल्द से जल्द सुधार लाने को कहा है, अन्यथा उनके खिलाफ कार्यवाई की जाएगी । एक योजना के तहत सिविल एयरपोर्ट से प्रीपेड टैक्सी चलाई जानी थी,

 

लेकिन इस पर भी अब तक कोई काम शुरू नहीं हो पाया है। मंडलायुक्त ने निर्देश दिए हैं कि जीडीए सचिव, पुलिस अधीक्षक यातायात, उप नगर आयुक्त और संभागीय परिवहन अधिकारी की संयुक्त टीम द्वारा टेंडर जारी करके आगे की कार्यवाही पर काम किया जाए। डीजल और एलपीजी से संचालित होने वाले ऑटो में  रेट्रो फिटमेंट के लिए 2 आवेदकों को प्राधिकार पत्र जारी किए जाने एवं 2 आवेदकों के प्राधिकार पत्र नवीनीकृत किए जाने का निर्णय लिया गया है । मंडलायुक्त ने उन वाहनों पर कड़ी कार्यवाही करने का फैसला लिया है, जो ओवरलोड होते हैं एवं इनके विरुद्ध शमन शुल्क व परमिट निलंबन, निरस्तीकरण की कार्यवाही के भी आदेश दिए हैं। यहां तक कि इस बैठक में स्कूल में डीजल बसों को परमिट ना देते हुए इलेक्ट्रिक बसों का संचालन सुनिश्चित किया गया है।

 

मंडलायुक्त ने सड़क के किनारे अनधिकृत रूप से खड़े किए गए वाहनों के कारण हो रही दुर्घटनाओं पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने संभाग के सभी एआरटीओ को निर्देश दिया कि वह सड़क के किनारे खड़े वाहनों को विशेषकर भारी वाहनों कोशिश करें। बैठक में अजय कांत सैनी अपर आयुक्त, अशोक कुमार सिंह, उप परिवहन आयुक्त (परिक्षेत्र)वाराणसी, डॉ. एमपी सिंह पुलिस अधीक्षक यातायात, अनीता सिंह संभागीय परिवहन अधिकारी, अजय गंगवार मुख्य अभियंता लोक निर्माण विभाग, श्यामलाल सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी प्रशासन आदि मौजूद रहे ।

 

# केंद्र रूटों पर बढ़ेगा बसों का परिचालन__

गोरखपुर में कई रूटों पर उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के बसों का संचालन कम होने के कारण लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है l जिनमें फरेंदा से महाराजगंज और नौतनवा से महाराजगंज मार्ग के नाम शामिल है। इस स्थिति में मंडलायुक्त ने 3 दिनों के भीतर 6 अतिरिक्त बसों का संचालन शुरू करने का फैसला लिया है। इतना ही नहीं महाराजगंज के एकसड़वा स्थान से ऑटो रिक्शा के परमिट जारी किए जाने का और ट्रांसपोर्ट नगर से व्यवसाय कर रही फॉरवर्डिंग एजेंसीयों को गीडा में तत्काल शिफ्ट कराए जाने एवं चिन्हित 50 ब्लैक स्पॉट पर जल्द से जल्द सुधार लाने के निर्देश भी मंडलायुक्त ने जारी किए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.