Saturday, October 1UAM - UDYAM-BR-13-0006027

गोरखपुर में ज़मीन रजिस्ट्री की नयी व्यवस्था लागू, ख़त्म हुआ भीड़ और दो कार्यालयों का चक्कर

गोरखपुर में जमीन रजिस्ट्री की प्रक्रिया में एक बेहद ही बड़ा एवं अहम बदलाव किया गया है, जिसका फायदा रजिस्ट्री कराने वाले लोगों के साथ साथ कर्मचारियों को भी मिलेगा। वर्तमान व्यवस्था के तहत उपनिबंधक प्रथम और उपनिबंधक द्वितीय कार्यालय में जमीन की रजिस्ट्री की जाती है।

 

लेकिन अब इस व्यवस्था में बदलाव किया गया है बदली व्यवस्था के तहत अब ऑनलाइन बुकिंग के हिसाब से 30 30 बैनामें उपनिबंधक प्रथम एवं उपनिबंधक द्वितीय कार्यालय में आवंटित हो जाएंगे, तथा इसके अलावा अब शहरी क्षेत्र के किसी भी निबंधन कार्यालय में जाकर संपत्ति की रजिस्ट्री कराई जा सकती है।

 

इसका सीधा फायदा कार्यालयों के उपनिबंधक एवं कर्मचारियों को भी मिलेगा क्योंकि अक्सर यह देखने को मिलता है कि दोनों कार्यालयों में से किसी में ज्यादा भीड़ है तो कोई खाली पड़ा रहता है, ऐसे में लोगों का समय भी बर्बाद होता है तथा कर्मचारियों को अत्यधिक परेशानी भी होती है। नई व्यवस्था के तहत अब सीरियल नंबर से रजिस्ट्री की व्यवस्था शुरू होती है तो वे नामों का बराबर बराबर बंटवारा दोनों कार्यालयों में हो जाएगा।

 

फिलहाल की व्यवस्था के अनुसार जो बैनामे किए जाते हैं वह क्षेत्र के हिसाब से होते हैं इस वजह से एक कार्यालय में ज्यादा भीड़ रहता है तो लोगों को अत्यधिक भीड़ का सामना करना पड़ता है नई व्यवस्था के तहत अब दोनों निबंधन कार्यालयों में बराबर बराबर भीड़ देखने को मिलेगी तथा लोगों को रजिस्ट्री कराने में भी पहले से अब काफी आसान होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.