Thursday, September 29UAM - UDYAM-BR-13-0006027

गोरखपुर को मिला नया बस रूट और 10 नई बसे, जाने नया रूट जिसपर चलनी है नई बसें

गोरखपुर के बस यात्रियों के लिए सरकार द्वारा नई बसें उपलब्ध करा दी गई है, ज्ञात हो कि साल 2021 में 15 इलेक्ट्रिक सिटी बसों का संचालन शुरू किया गया था, इन बसों का संचालन 3 रूटों पर किया जा रहा था तथा पिछले महीने रूट का विस्तार करके भटहट से मसेहरा के लिए नया रूट तैयार करके उसपर बसो का संचालन शुरू किया गया। अब कुल मिलाकर 4 रूटों पर बसों का संचालन किया जा रहा है, बसों की संख्या कम होने की वजह से यात्रियों को बस स्टॉप पर लंबा इंतजार करना होता है जिसके वजह से सफर में लगने वाले समय में भी काफी इजाफा हो जाता है।

 

इस समस्या को देखते हुए बस संचालन समिति ने शासन से बसों की मांग की थी जिसको देखते हुए शासन द्वारा 10 नई इलेक्ट्रिक बसे उपलब्ध कराई गई, यह नई बसें पिछले महीने के 15 जून को गोरखपुर पहुंच चुका था लेकिन पंजीकरण ओर विभागीय प्रक्रिया को पूरा करने में लगभग 15 दिन का समय लगा जिसके बाद अभी नई बसों को पुराने रूटों पर ही चलाने का फैसला किया गया है।

 

यहां के इंचार्ज के द्वारा मिली जानकारी के अनुसार 4 रूटों में पहला रूट मसेहरा से सहजनवा है, जिस पर पहले छह इलेक्ट्रिक बसों का संचालन किया जाता था जिसकी संख्या बढ़ाकर अब 11 कर दी गई है, इसके अलावा भटहट से मसेहरा इस रूट पर पहले तीन बसों का संचालन किया जाता था जिसके संख्या बढ़ाकर पांच कर दी गई है, तीसरा रूट झुंगिया बाजार से रानीडीहा रूट शामिल है जिस पर पहले दो बसों का संचालन किया जाता था तथा इसकी संख्या बढ़ाकर अब चार कर दी गई है, चौथे तथा अंतिम रूप मद्रास एयरपोर्ट के लिए पहले चार बसों का संचालन किया जा रहा था जिसकी संख्या बढ़ाकर पांच कर दी गई है। इन बसों के संख्या बढ़ने से शहर के बस यात्रियों को बहुत ही बड़ी राहत मिलने वाली है, आइए जानते हैं प्रत्येक रूट के विस्तार एवं स्टॉपेज की समस्त जानकारी एक नज़र में।

 

गोरखपुर का पहला रूट इस प्रकार है।
महेसरा से सहजनवां : श्यामनगर, मोहरीपुर चौक, खंडेलवाल स्टील, बरगदवा तिराहा, आर्दश धर्मकांटा, चिरकुटवा बाबा मंदिर, कुष्ठाश्रम, उद्योग भवन तिराहा, गोरखनाथ हॉस्पिटल, गोरखनाथ मंदिर, गोरखनाथ फ्लाईओवर, शंकर आई हास्पिटल, तरंग क्रासिंग, धर्मशाला बाजार, ट्रैफिक तिराहा, रेलवे स्टेशन, रोडवेज बस स्टेशन, यूनिवर्सिटी चौराहा, गोरखपुर विश्वविद्यालय, छात्रसंघ चौराहा, पैडलेगंज, जलनिगम ऑफिस, दाउदपुर, रुस्तमपुर चौराहा, महेवा मंडी, ट्रांसपोर्ट नगर, अमरूद मंडी, नौसड़, सहजनवां।

 

गोरखपुर का दूसरा रूट इस प्रकार है।
महेसरा से एयरपोर्ट : श्यामनगर, मोहरीपुर चौक, खंडेलवाल स्टील, बरगदवा तिराहा, आर्दश धर्मकांटा, चिरकुटवा बाबा मंदिर, कुष्ठाश्रम, उद्योग भवन तिराहा, गोरखनाथ हॉस्पिटल, गोरखनाथ मंदिर, गोरखनाथ फ्लाईओवर, शंकर आई हास्पिटल, तरंग क्रासिंग, धर्मशाला बाजार, ट्रैफिक तिराहा, रेलवे स्टेशन, रोडवेज बस स्टेशन, यूनिवर्सिटी चौराहा, रेल म्यूजियम, मोहद्दीपुर चौराहा, अयोध्या प्रसाद अपार्टमेंट, भारत पेट्रोल पंप, अदालत रेस्टोरेंट, कूड़ाघाट गुरूंग तिराहा, एम्स, केंद्रीय विद्यालय मोड़, नंदानगर क्रासिंग, नंदानगर, एयरपोर्ट।

गोरखपुर का तीसरा रूट इस प्रकार है।
झुंगिया से रानीडीहा : झुंगिया बाजार, झुंगिया गेट, मेडिकल कॉलेज, मोगलहा, रेल विहार, आईटीआई चौराहा, खजांची चौराहा, राप्तीनगर चौराहा, शाहपुर थाना, एचएन सिंह चौराहा, चतुर्वेदी नर्सिंग होम, खरैया पोखरा, असुरन चौक, राजकीय पॉलीटेक्निक, इंदिरा बाल विहार, कचहरी चौराहा, शास्त्री चौक, अंबेडकर चौक, कमिश्नर कार्यालय, छात्रसंघ चौराहा, पैडलेगंज, व्ही पार्क, मोहद्दीपुर, ओरियन मॉल, आरकेबीके, कूड़ाघाट, आवास विकास मेन रोड, सिंघड़िया चौराहा, मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, दिव्य नगर, रानीडीहा।

गोरखपुर का चौथा रूट इस प्रकार है।
भटहट से महेसरा : आरएन टॉवर, भटहट पुलिस चौकी, लोहा सिंह चौराहा, दुर्गा मंदिर चौराहा, रामपुर चौराहा, बरगदही, नाहरपुर, गुलरिया बाजार, सरैया बाजार, कंचनपुर बाजार, झुंगिया बाजार, मेडिकल कॉलेज, आईटीआई चौराहा, मोगलहा, रेल विहार, खजांची चौक, राप्तीनगर, शाहपुर थाना, एचएन सिंह चौराहा, बशारतपुर, खरैया पोखरा, असुरन चौक, गोलघर काली मंदिर और महेसरा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.