Thursday, September 29UAM - UDYAM-BR-13-0006027

गोरखपुर को जाम से मुक्ति के लिए बनेगा नया ओवरब्रिज, साथ साथ एक और फ़ोरलेन की तैयारी शुरू

पडलेगंज से फिराक गोरखपुरी चौराहे तक की सड़क को फोर लेन बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को गोरखनाथ मंदिर में विकास कार्यों की समीक्षा के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिए. फोर लेन बनने से इस सड़क पर लगने वाला जाम खत्म हो जाएगा। मुख्यमंत्री ने जिले में चल रही योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की।

 

विकास कार्यों को लेकर गोरखनाथ मंदिर में बैठक

मुख्यमंत्री ने लोक निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने देवरिया बाईपास को फोर लेन बनाने की प्रगति की जानकारी ली। पीडब्ल्यूडी अधिकारियों ने बताया कि फोर लेन स्मार्ट रोड बनाने के लिए सरकार को 393 करोड़ रुपये का प्रस्ताव भेजा गया है. इस सड़क पर बिजली के तार अंडरग्राउंड होंगे, सजावटी लाइटें लगेंगी. मुख्यमंत्री ने देवरिया बाइपास रोड को बोटिंग कर फोर लेन बनाने के प्रस्ताव के बारे में भी पूछा।

 

सीएम ने देवरिया बाईपास के निर्माण कार्यों की ली जानकारी

बताया गया कि सिविल वर्क का एस्टीमेट तैयार कर लिया गया है, जल्द ही पूरा प्रस्ताव सरकार को भेजा जाएगा। मुख्यमंत्री ने बिजली विभाग से बिजली आपूर्ति ओटीएस की जानकारी ली। साथ ही स्मार्ट मीटर लगाने की भी जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी कीमत पर जलजमाव नहीं होना चाहिए। उन्होंने मेडिकल रोड नाले को लेकर पार्षदों द्वारा जताई जा रही आशंकाओं की भी जानकारी ली। नगर आयुक्त अविनाश सिंह ने बताया कि इस बार कहीं भी जलजमाव नहीं होगा, सभी तैयारियां कर ली गई हैं ।
गोरखपुर में फोरलेन गोरखपुर शहर में एक और फोरलेन बनाने की तैयारी है। सोमवार को गोरखपुर में अधिकारियों की बैठक में सीएम योगी आदित्यनाथ ने पडलेगंज से फिराक गोरखपुरी चौराहे तक सड़क को फोर लेन करने के निर्देश दिए।

 

आयुष विश्वविद्यालय, सैनिक स्कूल ने भी की समीक्षा

मुख्यमंत्री ने आयुष विश्वविद्यालय, सैनिक स्कूल के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने जेल बाइपास रोड की प्रगति की भी समीक्षा की। उन्होंने पशु चिकित्सा महाविद्यालय के लिए भूमि की उपलब्धता की जानकारी ली। एसडीएम सदर ने उन्हें चिन्हित जमीन के बारे में बताया। मुख्यमंत्री ने कहा कि जल्द से जल्द जमीन को फाइनल किया जाए। बैठक में संभागायुक्त रवि कुमार एनजी, जिलाधिकारी कृष्ण करुणेश, सीडीओ इंद्रजीत सिंह, विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

 

अग्निपथ पर कानून व्यवस्था की समीक्षा

मुख्यमंत्री ने अग्निपथ योजना के विरोध को देखते हुए कानून व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा की। डीआईजी जे रविंदर गौड़ और एसएसपी विपिन टाडा ने कहा कि इस पर नजर रखी जा रही है। साथ ही पीपीगंज में की गई कई कार्रवाइयों से अवगत कराया। मुख्यमंत्री ने कहा कि युवाओं को इस योजना के लाभ के बारे में बताया जाए।

 

गोरखनाथी में दूसरा ओवरब्रिज बनाने के निर्देश

बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने गोरखनाथ रोड पर एक और ओवरब्रिज बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने इस पर चर्चा करते हुए कहा कि इसका प्रस्ताव जल्द से जल्द तैयार किया जाए।

 

रामगढ़ ताल की सफाई के लिए तेज होगी वकालत

बैठक के दौरान मुख्यमंत्री को रामगढ़ ताल में क्रूज चलाने की भी जानकारी दी गई। जीडीए उपाध्यक्ष ने बताया कि नीलामी को अंतिम रूप दे दिया गया है। क्रूज ऑस्ट्रेलिया से आएगा। इसमें करीब तीन से चार माह का समय लगेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि क्रूज के संचालन से पर्यटन को और बढ़ावा मिलेगा। बैठक के दौरान रामगढ़ ताल से गाद हटाने पर भी चर्चा हुई। मुख्यमंत्री को बताया गया कि नमामि गंगे के लिए 350 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट भेजा गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह मामला दिखाया जाए, रिमाइंडर भेजा जाए. इसके लिए शासन स्तर से भी प्रयास किए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.