Thursday, September 29UAM - UDYAM-BR-13-0006027

गोरखपुर के एक हज़ार से अधिक स्थानो पर शुरू हुआ कार्ड बनाने का कार्य, जानिए पूरी प्रक्रिया

जैसा कि हम सब जानते हैं कि गोरखपुर जिले में अंत्योदय आयुष्मान कार्ड पखवाड़े का शुभारंभ मंगलवार को हो चुका है, जो कि 20 जुलाई तक मनाया जाएगा । जानकारी के अनुसार इस पखवाड़े में अपने क्षेत्र की आशा कार्यकर्ता या कोटेदार से संपर्क कर अंत्योदय कार्डधारक लाभार्थी इस अभियान के तहत बिना किसी शुल्क के अपना आयुष्मान कार्ड बनवा सकते हैं। आपको बता दें कि विलेज लेवल एंटरप्रेन्योरशिप (वी एल ई) के माध्यम से कैंप लगाकर जिले के राशन दुकानों समेत सभी प्रमुख सार्वजनिक स्थानों पर इस संबंध में हर कार्य दिवस में  लगभग 1,000 स्थान ऐसे हैं, जहां कार्ड बनाया जाएगा।

 

आयुष्मान भारत योजना के नोडल अधिकारी डॉ अनिल कुमार सिंह ने बताया कि जिले के 1.26 लाख अंत्योदय कार्डधारक परिवारों के करीब 4.83 लाख सदस्य 23 जुलाई 2021 से ही मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान के दायरे में आ गए हैं। लेकिन, आयुष्मान कार्ड सिर्फ 1.15 लाख लोगों ने ही बनवाया है।

 

# क्या होगा लाभ इस आयुष्मान कार्ड का___

आपको बता दें कि इस पखवाड़े का आयोजन सिर्फ इसलिए किया गया है कि आयुष्मान कार्ड की पहुंच हर लाभार्थी तक हो सके । इसी संदर्भ में हर क्षेत्र की आशा कार्यकर्ता और कोटेदार को निर्देशित किया गया है, कि वह प्रत्येक लाभार्थी की कार्ड बनवाने में हर संभव मदद करें। कार्ड होने पर प्रत्येक लाभार्थी परिवार को प्रतिवर्ष ₹5 लाख तक के मुफ्त इलाज की सुविधा आकस्मिक परिस्थितियों में मिल सकेगी।

 

#  आसान है सत्यापन__

अंत्योदय कार्ड धारकों का आयुष्मान कार्ड के लिए सत्यापन काफी आसान है। नोडल अधिकारी ने बताया कि सिर्फ राशन कार्ड और आधार कार्ड से इन लाभार्थियों का सत्यापन हो जाएगा और आयुष्मान कार्ड बनाया जा सकेगा। जिला स्तर से जिला कार्यक्रम समन्वयक डॉ संचिता मल्ल, ग्रीवांस मैनेजर विनय पांडेय और सूचना तंत्र प्रबंधक शशांक शेखर अभियान को सफल बनाने में मदद करेंगे। आवश्यकतानुसार आरोग्य मित्रों को भी कैंप स्थल पर भेजा जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.