Thursday, September 29UAM - UDYAM-BR-13-0006027

गोरखपुर के इस रूट पर बिछाई जाएगी 240KM लंबी नई रेल लाइन,160KM की रफ़्तार से दौड़ेंगी ट्रेने, बनेंगे 32 स्टेशन, देखे तैयार हुवा नक्शा

गोरखपुर और पूर्वोत्तर क्षेत्र के रेल यात्रियों के लिए एक अच्छी खबर आ रही है। बता दे कि खलीलाबाद-बहराइच नए रेल मार्ग पर पूर्वोत्तर रेलवे ने लाइन बिछाने की प्रक्रिया तेज कर दिया है। इस नए रेल मार्ग की लंबाई लगभग 240 किलोमीटर होगी। नए रेलमार्ग पर अधिकतम 160 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से ट्रेनों को चलने लायक तैयार किया जाएगा। इस रेल मार्ग का निर्माण चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा। बता दें कि प्रथम चरण में गोरखपुर से बांसी तक लगभग 55 किलोमीटर नयी रेल लाइन बिछाई जाएगी। जिसके लिए रेलवे प्रशासन ने 82 गांव के 260 हेक्टेयर भूमि को चिन्हित करके जिला प्रशासन को भेज दिया है। रेलवे प्रशासन ने भूमि अधिग्रहण के लिए संत कबीर नगर को 110, और सिद्धार्थ नगर जिला प्रशासन को 55 करोड आवंटित कर दिया है।

 

पूर्वोत्तर रेलवे ने नई रेल लाइन का तैयार किया नक्शा

आपको बता दें कि जानकारी के अनुसार संत कबीर नगर, सिद्धार्थ नगर, बलरामपुर, श्रावस्ती और बहराइच सहित टोटल 5 जनपदों को यह रेल मार्ग जोड़ेगी। गोरखपुर-बहराइच नए रेलमार्ग पर कुल 32 स्टेशन बनाए जाएंगे, इसमें चार जंक्शन, 16 क्रॉसिंग, और 12 हाल्ट होंगे। नई रेल मार्ग पर दो महत्वपूर्ण बड़े पुल, 32 बड़े और 86 छोटे पुल बनाए जाएंगे। यही नहीं किस रेल मार्ग पर 9 ओवर ब्रिज और 132 अंडरपास बनेंगे। नए रेल मार्ग के निर्माण के लिए टोटल 1060 हेक्टेयर भूमि की अअधिग्रहण होगा। नए रेलमार्ग के लिए पूर्वोत्तर रेलवे ने नक्शा तैयार कर लिया है।

 

रेल मार्ग पर बनने वाले स्टेशन
बहराइच, आजातपुर, धुंसवा बरडेहरा , भिनगा, हरिहरपुर, बिशुनपुर रामनगर , लक्ष्मणपुर, एकौना, श्रावस्ती, हसुवाडोल, झारखंडी, बलरामपुर, खगई जोत, महेशबारी , श्रीदत्तगंज, कपऊ शेरपुर , उतरौला, चिरकु टिहा परिमनिहा, बंजरहा, धनखर पुर, डुमरियागंज, टिकरिया, भागो भार, रमवापुर दुबे, बांसी, खेसराहा, पसाई, मेहदावल, बखीरा, बघौली बाजार और खलीलाबाद।

 

शिलान्यास 2 मार्च 2019 को हुआ था

उत्तर प्रदेश के पिछड़े क्षेत्र में विकास का रास्ता तैयार करने के लिए नई रेल लाइन की मंजूरी केंद्र सरकार की कैबिनेट ने अक्टूबर 2018 में दिया था। रिपोर्ट्स के अनुसार कैबिनेट के द्वारा 4940करोड़ों रुपए का बजट प्रस्तावित कर दिया है। खलीलाबाद में नई रेल लाइन का शिलान्यास पीयूष गोयल ने 2 मार्च 2019 को किया था। वही निर्माण के काम में तेजी लाने के लिए वर्तमान बजट में सरकार 100 रुपए आवंटित कर दिया है, बता दें कि पिछले बजट में भी 20 करोड़ रुपए की धनराशि मिली थी। इस नए रेलमार्ग पर मंत्रालय ने विधुतीकरण को भी मजूरी दे दी है । इस नए रेल मार्ग के बनने से रोजगार के अवसर साथ साथ पर्यटन और तीर्थाटन को भी बढ़ावा मिलेगा वहीं क्षेत्र में विकास भी होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.