Thursday, September 29UAM - UDYAM-BR-13-0006027

गोरखपुरवासियो के लिए नए रेल रूट की मंज़ूरी, बिहार के रेलयात्रियो को मिलेगा नए रूट का लाभ

रेलवे ने डोमिंगागढ़-कुसामी तीसरा रेलवे लाइन का विस्तार किया है। अब बेतालपुर से खलीलाबाद तक 82 किमी तक तीसरी लाइन बिछाई जाएगी। रेलवे बोर्ड की मंजूरी से फाइनल लोकेशन सर्वे का बजट भी जारी कर दिया गया है। इस नई लाइन के बिछाने से जहां ट्रेनें समान गति से चलेंगी, उन्हें रेलवे ट्रैक खाली होने का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन जल्द ही सर्वेक्षण के लिए एजेंसी पर फैसला करेगा। तैयारियां शुरू हो गई हैं।

 

रेल प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार कुसामी से बेतालपुर और डोमिनगढ़ से खलीलाबाद तक तीसरी लाइन बिछाई जाएगी। डोमिंगगढ़ से खलीलाबाद तक 30 किमी तीसरी लाइन बिछाने के लिए 60 लाख रुपये और कुसामी से बेतालपुर तक 29.7 किमी तीसरी लाइन बिछाने के लिए 59 लाख रुपये। सर्वे रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। वहीं, बुढेवाल-गोंडा तीसरी लाइन के लिए 640 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए हैं। वहीं, तीसरी लाइन पर डोमिंगगढ़ से कुसमी तक 2023 में ट्रेनें चलने की उम्मीद है। छपरा-लखनऊ होते हुए गोरखपुर रूट से करीब 60 मालगाड़ियां और करीब 120 ट्रेनें गुजरती हैं। तीसरी लाइन के बनने से लोड में काफी कमी आएगी। खासकर गोरखपुर जंक्शन पर ट्रेनों के चलने में कोई दिक्कत नहीं होगी।

 

# तीसरी डोमिनगढ़-कुसामी लाइन 21.15 किमी लंबी है

तीसरी लाइन डोमिंगगढ़ से कुसमही वाया केंट स्टेशन 21.15 किमी लंबी है। इसके बनने से ट्रेनों को बाहर पार्क नहीं किया जाएगा। गंतव्य तक मालगाड़ियों की रफ्तार भी बढ़ेगी। पिछले बजट में तीसरी लाइन के लिए 105 करोड़ रुपये मिले थे। जिसके बाद काम शुरू किया गया। परियोजना को 2016 के बजट में मंजूरी दी गई थी। इस लाइन के लिए इस बार 62 करोड़ रुपये मिले हैं। अब तक 70 फीसदी काम पूरा हो चुका है।

 

# मालगाड़ियां बिना किसी बाधा के आ-जा सकेंगी

वर्तमान में ट्रैक पर लोड के कारण डोमनगढ़, छावनी और कुसामी में लंबे समय तक वाहन खड़े रहते हैं। तीसरी लाइन के बनने से मालगाड़ियां एक लाइन से गुजरेंगी, जिससे एक्सप्रेस ट्रेनें बिना किसी रुकावट के आ-जा सकेंगी। एनईआर सीपीआरओ पंकज कुमार सिंह ने कहा कि कुसामी से बेतालपुर और डोमिंगगढ़ से खलीलाबाद तक तीसरी लाइन के लिए फाइनल लोकेशन सर्वे किया जाएगा। इसलिए बजट रखा गया है। तीसरी लाइन सुचारू रूप से चलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.