Thursday, September 29UAM - UDYAM-BR-13-0006027

कानपूर में बनकर तैयार हुवा पीकू वार्ड , अब बच्चो को मिलेगा एक बेहतर इलाज

कानपुर जिले में कोरोनावायरस के तीसरे लहर से लड़ने के लिए प्रशासन पूरी तरह से तैयारी कह रही है। बच्चो को बेहतर इलाज देने के लिए जिला अस्पताल स्थिति पीकू को वार्ड बनाया गया है। जिसमें बच्चों को एक अच्छा इलाज देने के लिए तैयार गया है।बीते दिन गुरुवार को कानपुर के डीएम ने पीकू वार्ड का उद्घाटन किया है, बताया जा रहा है कि यह वार्ड प्रदेश में सबसे पहला बनकर तैयार होने वाला पीकू वार्ड है।

 

कोरोनावायरस के तीसरे लहर से बचने के लिए यह वार्ड काफी मददगार साबित हो सकता होगा । बच्चों को एक बेहतर इलाज देने के लिए पीकू वार्ड बनाया गया है। इस वार्ड में सीएमएस राजीव गुप्ता के अनुसार 20 बेड मौजूद है। उन्होंने बताया कि 20 बच्चों को भर्ती लेकर एक बेहतर उपचार दिया जा सकेगा वही ज्यादा गंभीर रूप से बीमार बच्चों के लिए चर वेंटिलेटर का व्यवस्था किया गया है।

 

आने वाला तीसरा लहर बच्चों के लिए ज्यादा खतरनाक होगा ऐसा अनुमान विशेषज्ञों ने लगाया है जिसके बाद इसको गंभीरता से लेते हुए पीकू वार्ड बनाए जाने का निर्देश दिया गया था। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने मात्र 2 सप्ताह के अंदर इस वार्ड का को बनवाया है। डीएम साहब बताते हैं कि हमारा यह वार्ड बिल्कुल बन गया है, अब हम तीसरे लहार से लड़ने के लिए तैयार है।

 

जब कोरोनावायरस का पहला लहराया आया था तो ठीक  उसके बाद दूसरे लहर का भी अनुमान लगाया गया था और दूसरा लहर भी आया , अब खबर यह भी है कि देश में तीसरा लहर भी अक्टूबर-नवंबर तक आ सकता है हालांकि इसका कोई  इसका सटीक अनुमान नहीं लगा सकता है।  लेकिन प्रदेश में तीसरे वेव  से बचाव के लिए तैयारियां काफी  तेजी से चल रही है। 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.