Thursday, September 29UAM - UDYAM-BR-13-0006027

कानपुर में पांच लाख लोगो तीन दिन तक नहीं मिलेगी पानी, इन नौ इलाको के लोगो पर रहेगा जल संकट

कानपुर के कई इलाकों में कल से जल का संकट रहेगा। कानपुर में लगभग 5 लाख लोगो को जल के संकट का सामना करना पड़ेगा। आपको बता दें कि फीडर लाइन लीकेज के मरम्मत किया जाएगा जिसके लिए बैराज के पुराने प्लांट को 3 दिन के लिए बंद किया जाएगा। इस प्लांट के बंद होने के चलते कानपुर के लगभग 9 इलाकों और लगभग 5 लाख लोगों को इस जल के संकट रहेगा।लीकेज मरम्मत को ठीक करने के लिए बैराज के पुराने प्लांट को 4 मार्च से 6 मार्च तक बंद रखा जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट्स से मिली जानकारी के अनुसार गंगा बैराज के अधिशासी अभियंता केपी आनंद ने बताया है कि डॉ. राम मनोहर लोहिया सम्पूर्ति यूनिट गंगा बैराज स्थित 200 एमएलडी रिजरवायर से जोनल पंपिंग स्टेशनों को जाने वाली फिडर पाइप में लिकेज हुआ है। इसके चलते पानी का प्रेशर पंपिंग स्टेशनों को भरने में कम हो गया है यही नहीं इसके चलते पानी की भी बर्बादी हो रही है। लीकेज के मरम्मत करने के लिए गंगा बैराज के पुराने प्लांट को 4 मार्च की सुबह से लेकर 6 मार्च के रात तक बंद रखा जाएगा। आपको बता दें अब अगर यह प्लांट बंद रहता है तो इस से विकास नगर, इंदिरा नगर, दयानंद विहार, शरदा नगर, आवास विकास योजना 1 से 3 ,रतनपुर,पनकी जॉन पंपिंग स्टेशनों के माध्यम से किया जाने वाला जल की आपूर्ति रुकी रहेगी।

आगे आपको बता देगी लीकेज को ठीक करने के लिए गुजैनी वाटर वक्रस अभी 2 दिन और बंद रहेगा जिसके चलते साउथ के लगभग 5 लाख लोगों को भी पानी के लिए संकट का सामना करना पड़ेगा। लेकिन एक वक्त बैराज की लाइन से जल की आपूर्ति की जा रही है जो कि यह पर्याप्त नहीं है। लीकेज ठीक होने के बाद ही गुजैनी वाटर वक्रस को चालू किया जाएगा, लोगों को अभी 2 दिन और इंतजार करना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.