Friday, September 30UAM - UDYAM-BR-13-0006027

उत्तर प्रदेश में बनेगा नया 500KM लंबा परशुराम तीर्थ सर्किट, राज्य के 6 जिलों से होकर गुजरेगा, देखिये पूरी योजना

उत्तर प्रदेश में 500 किलोमीटर लंबा परशुराम तीर्थ सर्किट बनाने की योजना तैयार कर रही है। बता दें कि प्रदेश की योगी आदित्यनाथ की सरकार परशुराम तीर्थ सर्किट का निर्माण करने की योजना बना रही है लोक निर्माण विभाग राम वन गमनमार्ग के निर्माण कार्य को गति देने के बाद अब परशुराम तीर्थ सर्किट बनाने  जा रही है। परशुराम तीर्थ सर्किट उत्तर प्रदेश के 6 जिलों सीतापुर, लखीमपुर, पीलीभीत, बरेली, शाहजहांपुर और फर्रुखाबाद से गुजरेगा और इसकी लंबाई 500 किलोमीटर से ज्यादा होगी।

आपको बता दें कि परशुराम तीर्थ सर्किट जैसा नाम है उसके समान ही यह सर्किट नैमिषारण्य धाम, महर्षि दधीचि स्थल मिश्रिख, गोला गोकर्ण नाथ, गोमती उद्गम , मां पूर्णागिरी मंदिर के किनारे से होते हुए बाबा नीम करौरी धाम और शाहजहांपुर के जलालाबाद क्षेत्र में महर्षि परशुराम की जन्मस्थली को जोड़ेगा। परशुराम तीर्थ सर्किट पर जगह-जगह पर इन सभी तीर्थ स्थलों के बारे में वर्णन और चित्रण इसकी खूबसूरती को बढ़ाने के लिए किया जाएगा। पिछले कुछ दिन पहले  परशुराम जन्मस्थली की कई दौरे लोक निर्माण मंत्री ने किया है और यहां के महंत और पुजारियों से बातचीत भी किया है उन्होंने नैमिष धाम, गोला गोकर्ण नाथ के पुजारियों शहीद और भी कोई साधु संतों से सुझाव लेकर इस कॉरिडोर की रूपरेखा तैयार कर इसका प्रस्ताव बनवाया है।

मिली जानकारी के अनुसार बता दें कि लोक निर्माण विभाग की एनएच विंग के मुख्य अभियंता के अनुसार परशुराम तीर्थ सर्किट का प्रस्ताव तैयार करके केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से इसकी चर्चा भी हो चुकी है वही मंजूरी मिलते ही काम शुरू हो जाएगा। वही आपको बता दें कि पीडब्ल्यूडी की एन एच विंग की ओर से भी सर्किट निर्माण की तैयारियां पूरी कर ली गई है केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से इस प्रस्ताव पर चर्चा की गई है,इसमें नैमिष के कुछ हिस्से का टेंडर प्रक्रिया हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.