Thursday, September 29UAM - UDYAM-BR-13-0006027

अब डाकिया बनाएगा,पांच साल से कम उम्र के बच्चो का आधार कार्ड, सत्यापन के लिए लगेगा मां का अंगूठा, नहीं देना होगा कोई शुल्क

छोटे बच्चों के आधार कार्ड बनवाने के लिए आब अभिभावको को परेशान होने की जरूरत बिल्कुल भी नहीं है क्योंकि 5 साल से कम उम्र के बच्चों का भी आधार कार्ड डाकिओ के द्वारा बनाया जाएगा । छोटे बच्चों का आधार कार्ड बनाने के लिए डाकिया को जिम्मेदारी दी गई है इसके लिए 66 डाकियों को प्रशिक्षित भी किया गया है। 5 साल से कम उम्र के बच्चों के आधार कार्ड सत्यापन के लिए मां के अंगूठा लिया जाएगा। यही नहीं पांच साल से कम उम्र के बच्चों का आधार कार्ड बनवाने के लिए दो चीजें जरूरी है पहला बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र और दूसरा बच्चे की मां का आधार नंबर आवश्यक है।

डाकिया पहले खत पहुंचाने के ही काम करते थे लेकिन अब इन्हे छोटे बच्चों के आधार कार्ड बनाने का काम सौंपा गया है। आपको बता दें कि बच्चों के आधार कार्ड बनाने की शुरुआत इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक ने किया है। जिसके लिए डाकिओ को प्रशिक्षित भी किया जा रहा है। जैसे कि हमने बताया 66 डाकिओ को प्रशिक्षित करके यह काम सौंपा गया है। स्मार्टफोन के माध्यम से आधार कार्ड बनाएंगे इसके लिए फोन में ऐप भी इंस्टॉल किया जा रहा है। सबसे पहले शहर के ग्रामीण क्षेत्रों में आधार कार्ड बनाने का काम शुरू किया गया है। घर-घर जाकर आधार कार्ड बनाया जाएगा यही नहीं आधार कार्ड के लिए कोई शुल्क भी नहीं लिया जाएगा।

उन अभिभावकों को आसानी होगी जो अपने बच्चों का आधार कार्ड बनवाने के लिए परेशान रहते थे। जैसे आप जानते छोटे बच्चों के उंगलियों की लकीरे साफ नहीं होती इसलिए आधार कार्ड सत्यापन करने के लिए मां के अंगूठा से किया जाएगा। छोटे बच्चों के आधार बनाने के लिए अगर मां का आधार नहीं होगा तो पिता का आधार नंबर होना आवश्यक है। बच्चों का आधार कार्ड निशुल्क बनाया जाएगा।

बच्चों के आधार कार्ड को मोबाइल नंबर से भी लिंक किया जाएगा इसके लिए ₹50 निर्धारित शुल्क लगाया गया है। सरकारी योजनाओं के लाभ लेने के लिए आधार कार्ड का मोबाइल नंबर से लिंक हो ना बहुत ही आवश्यक है। अभिभावक बिल्कुल भी परेशान ना हो क्योंकि आपके बच्चों के आधार कार्ड अब घर पर ही बन जाएगा। आपको ज्यादा परेशान होने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.