Thursday, September 29UAM - UDYAM-BR-13-0006027

अच्छी खबर-गोरखपुर रोडवेज बसों में शुरू हुई यह सुविधा, यात्री अब बिना कैश के भी कर सकेंगे सफर

उत्तर प्रदेश रोडवेज के बसों में सफर के दौरान अगर जेब में पैसे नहीं हो तो चिंता की कोई जरूरत नहीं है। रोडवेज की बसों में यात्री अब भीम, पेटीएम, गूगल डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड से भी भुगतान कर सकते हैं। आपको बता दें कि रोडवेज की बसों में परिचालक इलेक्ट्रॉनिक टिकट मशीन के जगह हाईटेक एंड्राइड टिकट मशीन लेकर चल रहे हैं। एंड्राइड टिकट मशीन की शुरुआत गोरखपुर डिपो से शुरू हो गई है। आजकल लोग जेब में पैसे लेकर चलना कम कर दिया है ज्यादातर लोग ऑनलाइन पेमेंट करना ज्यादा पसंद करने लगे हैं। बसों में इस सुविधा के शुरू होने से लोगों को कैश रखने की झंझट से छुटकारा मिलेगी।

गोरखपुर डिपो को मिली 180 मशीनें
बसों से सफर करने वाले यात्रियों को बता दें कि शुरुआत के पहले दिन ही गोरखपुर से लखनऊ, कानपुर और दिल्ली रूटों पर चलने वाली 20 बसों के परिचालकों को एंड्राइड टिकट मशीन दी गई है। नवागत सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक के अनुसार गोरखपुर डिपो को 180 मशीने मिली है। परिचालकों को मशीन देने से पहले प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है ताकि मशीन को इस्तेमाल करने में कोई परेशानी ना हो। एंड्राइड टिकट मशीन और चार्जर सभी बसों के परिचालकों को धीरे धीरे उपलब्ध कराया जाएगा। एंड्राइड टिकट मशीन बेहद ही मॉडर्न है। पुरानी मशीनों की अपेक्षा नई मशीन मोबाइल की तरह काम करती है।

 अब नहीं चलेगी परिचालकों की मनमानी
यात्रा के दौरान अक्सर परिचालक और यात्री के बीच फुटकर पैसे को लेकर कहासुनी हो जाती है। वही इस सुविधा के शुरू होने से फुटकर वाली समस्या खत्म हो जाएगी और कहीं ना कहीं पर चालकों की मनमानी भी बंद हो जाएगी। बता दें कि पहले इलेक्ट्रॉनिक टिकट मशीन के खराब हो जाता था तब परिचालक हाथ से ही टिकट बनाते थे। टिकट बनाने के दौरान बस को रास्ते में ही रोकना पड़ता था जब सभी यात्रियों के टिकट बन जाते थे तब बस को आगे बढ़ाया जाता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.