Thursday, September 22UAM - UDYAM-BR-13-0006027

अगर गोरखपुर में बारिश हुई तो, गुल हो जाएगी बिजली, जानिए क्या है पूरा मामला

गोरखपुर वासियों की गर्मी से बुरा हाल हो चुका है ऐसे में बिजली की भी मांग बढ़ती जा रही है। बता दें कि बिजली की मांग बढ़ने से ट्रांसफार्मरो पर ज्यादा लोड पड़ रहा है और 10 दिनों में 35 ट्रांसफार्मर जल चुके हैं। अगर क्षेत्र में बारिश हुआ तो और भी ट्रांसफार्मरों का जलना तय है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कार्यशाला के पास 250 केवीए 10 ट्रांसफार्मर और 400 केवीए के सिर्फ 5 ही ट्रांसफार्मर है यह ट्रांसफार्मर पूरे मंडल के लिए है।

जिले में ढाई अरब यूनिट से भी ज्यादा की मांग

अगर गोरखपुर महाराजगंज देवरिया और कुशीनगर में ट्रांसफार्मर जलना पर शुरू हो गया तो हालातों पर काबू पाना मुश्किल हो जाएगा। बजह यह है कि इन क्षमता के ट्रांसफार्मर ज्यादातर जगहों पर लगाए गए है। आपको बता दें कि गोरखपुर जिले में ढाई अरब यूनिट से भी ज्यादा मांग बढ़ गई है यही नहीं यह बिजली की मांग लगातार बढ़ती जा रही है। लगभग बिजली की सप्लाई भी दी जा रही है लेकिन उपकरण ओवरलोड हो चुके हैं और यही वजह है कि ट्रांसफर जलते जा रहे हैं।

अधिशासी अभियंता कार्यशाला के बताने के अनुसार ट्रांसफार्मर के जलने के मामले बढ़ते जा रहे हैं रिपेयरिंग का काम तेजी से हो रहा है वही आद्रता ज्यादा होने के कारण दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। ट्रांसफार्मरों की रिपेयरिंग तीन से चार बार से अधिक नहीं किया जाता इसलिए मध्यम क्षमता के ट्रांसफार्मरों की कमियां है। उन्होंने आगे कहा कि अगर आपात स्थिति पैदा होगी तो स्टोर या अन्य जिलों से मंगाया जा सकता है उच्च अधिकारियों को इसकी जानकारी दिया जा चुका है

Leave a Reply

Your email address will not be published.